दुनियासाइंस

अनिल अंबानी ने ब्रिटेन की अदालत से कहा, वह विलासिता से दूर, अनुशासित जीवन जीते हैं

लंदन. रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी ने ब्रिटेन की एक अदालत में चीन के तीन बैंकों के साथ ऋण समझौते को लेकर जारी विवाद में साक्ष्य देते हुए कहा कि उनके विलासितापूर्ण जीवन के लेकर की जाने वाले बातें सिर्फ अकटलबाजी हैं क्योंकि उनकी जीवन शैली ‘‘बेहद अनुशासित’’ है.
अंबानी अदालत से मुंबई से वीडियो कॉन्फ्रैंस के जरिये शुक्रवार को रूबरू हुए. एक समय अरबपति रहे अंबानी इस समय मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं. अंबानी इंडस्ट्रियल एंड कर्मिशयल बैंक आॅफ चाइना लिमिटेड (मुंबई शाखा), चाइना डेवलपमेंट बैंक और एक्जिम बैंक आॅफ चाइना द्वारा हासिल किए गए संपत्ति के खुलासे के आदेश पर सुनवाई के लिए उच्च न्यायालय के सामने सवाल-जवाब के लिए उपस्थित हुए.
आदेश के तहत अंबानी को दुनिया भर में अपनी सभी संपत्तियों का पूरा खुलासा करना जरूरी था. अंबानी ने लंदन की अदालत से कहा, ‘‘मेरी जरूरतें बहुत बड़ी नहीं हैं और मेरी जीवनशैली बेहद अनुशासित है.’’ जब उक्त बैंकों के वकीलों ने अंबानी की लग्जरी कारों और भव्य जीवनशैली का जिक्र किया तो उस संबंध में पूछे गए सलाव के जवाब में रिलायंस कम्युनिकेशंस के प्रमुख ने इन बातों को अटकलबाजी कहकर खारिज किया.
अनिल अंबानी के प्रवक्ता ने कहा कि उनकी तेजतर्रार और भव्य जीवन शैली की बढ़ा-चढ़ाकर बनाई गई धारणाओं के विपरीत अंबानी हमेशा सरल स्वभाव के व्यक्ति रहे हैं.
उनके वकील ने कहा, ‘‘वह अपने परिवार और कंपनी के लिए सर्मिपत हैं, एक मैराथन धावक हैं, और अत्यधिक आध्यात्मिक हैं. वह आजीवन शाकाहारी हैं, धूम्रपान नहीं करते हैं और शहर में बाहर जाने के बजाय अपने बच्चों के साथ घर पर रहकर फिल्म देखना पसंद करते हैं. इससे अलग बातें कहने वाली रिपोर्ट पूरी तरह भ्रामक हैं.’’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close